अमरीका में पढ़ने की चाह रखने वाले भारतीयों की संख्या बढ़ी  <<  कमजोर रह सकता है रियल एस्टेट कंपनियों का वित्तीय प्रदर्शन  <<  रोजगार सृजन हेतु नीतिगत बदलाव आवश्यक : डीआईपीपी  <<  कालीमिर्च सबसे ऊंचे रिकॉर्ड स्तर पर   <<  कस्टमर इज द न्यू ब्रांड एम्बेसेडर  <<  लैंडस्क॓पिंग में हैं अच्छी कारोबारी संभावनाएं  <<  आज का आर्थिक भविष्यफल  <<  
डाबर के तेजी से बढ़ते कदम
डाबर आज देश भर में सबसे तेजी से आगे बढ़ रही फास्ट मूविंग कन्ज्यूमर गुड्स यानि एफएमसीजी कम्पनियों में शामिल है। पिछले कई वर्षों से डाबर सुपरब्रांड की श्रेणी में भी शामिल है। आज एफएमसीजी उत्पादों का शायद
स्पाइस का स्पाइसी सक्सेस
1990 के दशक की शुरुआत में भारत में नरसिम्हाराव के नेतृत्व वाली सरकार ने लाइसेन्सराज की चूलें हिला दी थी। इसके अलावा सार्वजनिक क्षेत्र की सफेद हाथी जैसी
मंदी और कारोबारी प्रबन्धन
यदि किसी कम्पनी की आर्थिक सेहत अच्छी है तो मंदी के इस माहौल में वर्ष 2009 काफी महत्वपूर्ण होगा। इस वर्ष कम्पनियां यदि सही अवसर तलाश कर सही निर्णय करती हैं तो आने वाले वर्षों में कम्पनी के भविष्य के निर्धारण में महत्वपूर्ण कदम साबित हो
अमरीका में पढ़ने की चाह रखने वाले भारतीयों की संख्या बढ़ी
जयपुर। अमरीका में उच्च शिक्षा ग्रहण करने की चाह रखने वाले भारतीयों की संख्या में बड़ा इजाफा दर्ज किया गया है। एक रिपोर्ट के मुताबिक अमरीका के ग्रेजुएट कॉलेजों में गत वर्ष के मुकाबले चालू वर्ष में भारतीय छात्र-छात्राओं द्वारा किए गए आवेदनों की संख्या 32% बढ़ी है। वाशिंगटन आधारित काउंसिल ऑफ ग्रेजुएट स्कूल्स द्वारा जारी रिपोर्ट में कहा गया है कि 2012 के बाद से प्रतिवर्ष भारतीयों द्वारा अमरीका में शिक्षा पाने के लिए कॉलेजों व विश्‍वविद्यालयों में किए जाने वाले आवेदनों की संध्या लगातार बढ़ रही है। रिपोर्ट बताती है ...

वित्त मंत्रालय द्वारा बजट 2014-15 की तैयारी शुरू
नई दिल्ली। केन्द्रीय वित्त मंत्रालय ने वर्ष 2014-15 के लिए पूर॓ वर्ष के बजट निर्माण हेतु अपना कार्य शुरू कर दिया है। हालांकि इस सम्बंध में निर्णय तो नई सरकार को ...
‘भारत आधुनिक अर्थव्यवस्था का रास्ता अपनाये’
अमेरिकी थिंक टैंक दी इन्फॉर्मेशन टैक्नोलॉजी एंड इनोवेशन फाउंडेशन (आईटीआईएफ) ने कहा है कि भारत को आधुनिक अर्थव्यवस्था के मार्ग पर ...
समझें कंपनी अधिनियम के नये प्रावधानों को...
प्राइवेट कम्पनियों से संबंधित प्रावधानभारत में बड़े स्तर पर प्राइवेट लिमिटेड कम्पनियों के जरिए कारोबार किया जाता है। इन कम्पनियों के परिचालन का आकार जहां ...
राज्य में नई सरकार बनने के बाद कर राजस्व में आई गिरावट
जयपुर। राजस्थान में वसुंधरा राजे के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार आने के बाद कर राजस्व में गिरावट दर्ज की गई है। आधिकारिक सूत्रों से मिली जानकारी से पता चला है कि दिसंबर, 2013 मध्य में नई सरकार ने काम संभाला और इसके बाद जनवरी और फरवरी माह के जो राजस्व वसूली के आंकड़े आये, वे गत वित्त वर्ष के अन्य महीनों की तुलना में निराशाजनक रहे। जबकि दिलचस्प बात यह है जनवरी और फरवरी सामान्यतः वे महीने होते हैं जबकि राज्य में पर्यटकों की आवाजाही काफी होती है, कारोबार अच्छा चलता है, ब्याह-शादियों ...

‘‘यदि हमार॓ भीतर उच्च अहिंसा के भाव हों तो शेर भी अपना हिंसक भाव भूल जाता है।’’
Current Rates